HindiTech

New Era of Information

Python Programming language in hindi- history, feature, filed, salary

Python एक ऐसी Programming  language है जिसका योगदान आज की हर latest technologies में है। 

जैसे : आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence), मशीन लर्निंग (Machine Learning), डीप लर्निंग (Deep Learning), डाटा साइंस (Data Science), ब्लॉकचैन (Blockchain). Python Programming language का सिक्का हर क्षेत्र में जमा हुआ है। 

आप भी इस Programming लैंग्वेज के बारे में जानना चाहते है की इस Python language में ऐसा क्या है? जो आज हर दूसरा डेवलपर इस लैंग्वेज का गुणगान कर रहा है। 

What is Python Programming Language in Hindi आर्टिकल में हम बात करेंगे उन सारे टॉपिक्स की जिसे जान लेने के बाद

आप भी इस Programming language में अपनी अच्छीखासी पकड़ बना लेंगे। 

तो बिना किसी देरी के चलते है और जानते है Python के बारे में 

History of Python | पाइथन का इतिहास

Python Programming Language in Hindi
Python Programming Language in Hindi

Python एक Open Source (जिसे फ्री यूज़ किया जा सके), High-level, General Purpose, Interpreted, Object Oriented Programming लैंग्वेज है।

जिसे गुइदो वन रॉस्सुम (Guido Van Rossum) ने 1980 के दशक में बनाया था। 

इसकी शुरुआत National Institute for Mathematics and Computer Science, Netherland में हुई थी।

और इस लैंग्वेज की प्रेरणा ABC Programming Language से मिली थी। 

Python लैंग्वेज का मेंटेनेंस Core Development Team द्वारा किया जाता है |

जो हर रोज़ नए-नए Updates और Features जोड़ते रहते है । 

साल 1994 में Python का First Version यानि Python 1.0 आया था । 

बाद में Python के कई सारे version और subversions आए. आज की तारीख मैं पाइथन 3.0 version चल  रहा है। 

अब सवाल यह आता है की python तो असगर को भी बोला जाता है तो किसी Computer Programming Language का नाम किसी सॉँप के नाम पर क्यों ? 

तो मतलब क्या Guido Van Rossum को अजगर पसंद थे ? नहीं नहीं इसके पीछे भी एक मजेदार कारण है।

उन दिनों यानि 1970 के दशक में BBC की एक comedy series चलती थी जिसका नाम मोंटी पाइथनस फ्लाइंग सर्कस (Monty Python’s Flying Circus) था।

और इस Comedy Series के Guido Van Rossum बहुत बड़े फैन थे तो इससे inspire होके उन्होंने अपनी Computer Programming Language का नाम Python रख दिया। 

Purpose | पाइथन को बनाने का मकसद

Python language को बनाने का मकसद या उद्येश (Code Readbility) को बढ़ावा देना था |

मतलब की डेवलपर्स (Developers) इसे आसानी से पढ़ सके और समझ सके।

यह लैंग्वेज एक आम भाषा की तरह है जैसे हम बातचीत करने के English या तो Hindi पढ़ते है वैसे ही Python भी कुछ इसी ही तरह डिज़ाइन की गयी है।

इसे (python) कोई भी आसानी से पढ़ सकता है  और इसपर काम कर सकता है।

Python का दूसरा मकसद यह भी है की developer Python का उपयोग करके अपने Computer Programs को कम से कम लाइन में बना सके।

Python vs C language Basic Program | पाइथन का पहला प्रोग्राम

तो चलिए अब देखते है की Python दूसरी Computer Languages से सरल क्यों है? इसके लिए हम C language का उदाहरण देखेंगे . 

C language में हम Hello World का program कुछ इस तरह से लिखते है . Hello World किसी भी लैंग्वेज का सब से पहला program होता है। 

 #include <stdio.h>

int main() {

   printf(“Hello, World!”);

   return 0;

}

इस 4-5 लाइन के program को लिखने के बाद हमे Computer Screen पर Hello, World! दिखाई देगा। 

Python में हम इसी Hello World के program को मात्र 1 लाइन में लिख सकते है। 

जैसे :

print(‘Hello, world!’)

और इस 1 लाइन के program को लिखने के बाद हमे screen पर Hello, World! ही दिखाई देगा। 

किस तरह C language के 4-5 लाइन के कोड को हम Python में 1 लाइन में ही कर सकते है |

यही ख़ासियत और सरलता Python को बहुचर्चित बनाती है। 

Python used in which Fields? | पाइथन किन-किन क्षेत्र में उपयोग होती है?

fields of Python Programming Language in Hindi
Python used in which Fields

आज के समय में python हर क्षेत्र में उपयोग होने वाली language बन गयी है।

Python को सिख के आप  Web-Development, Mobile App-Development, Machine Learning, Data Science, Blockchain, Deep Learning, Artificial Intelligence जैसे क्षेत्रो  में काम कर सकते हो।   

WebDevelopment

अगर आपको WebDevelopment में अपना करियर बनाना है।

तो आपको Python के साथ इसकी Frameworks जैसे Django और Flask सीखनी पड़ेगी |

इन Frameworks को सीखने के बाद आप एक अच्छे WebDeveloper बन सकते हो

और अच्छी-अच्छी वेबसाइट बनाने में महारत हासिल कर सकते हो |

Mobile AppDevelopment 

Mobile Application Development ही एक ऐसा क्षेत्र है जहा python अभी उतनी मजबूत नहीं है |

पर जैसे-जैसे python की लोकप्रियता बड़ रही है वैसे ही python अपना सिक्का Appliction Development में भी जमा लेगी। 

Python इस क्षेत्र में मजबूत नहीं है इसका मतलब यह नहीं की आप Python की मदद से Mobile Application नहीं बना सकते।

Mobile Application development के लिए python की लाइब्रेरी Kivy का उपयोग होता है ..

Kivy python की एक library है जिसका उपयोग mobile app development में होता है ..

Machine Learning

ML एक ऐसा क्षेत्र है जो आज के समय में बढ़ता ही जा रहा है |

Machine Learning जैसे नाम से ही समझ आ रहा है की machine (Computer Program) को इंसान के दिमाग की तरह train करना ताकि वो Machine (Computer Program) अपने ही अनुभवों से सिख पाए |

Machine Learning सिख कर आप Machine learning Engineer यानि ML Engineer बन सकते हो और अच्छेखासे पैसे कमा सकते हो . 

Python  की कुछ libraries जैसे:

  • NumPy
  • SciPy
  • Scikit-learn
  • Tenserflow
  • Theano
  • Keras
  • PyTorch
  • Pandas
  • Matplotlib 

की मदद से आप Machine Learning सिख सकते हो .

 Deep Learning

DeepLearning में आप python की मदद से neural networks को डिज़ाइन यानि code करते हो।

आसान शब्दों में कहा जाए तो Deep Learning Machine Learning का upgrade version है। Deep Learning  एक अनुक्रमित एल्गोरिथम का इस्तेमाल करता है |

Artificial Intelligence

ये एक ऐसी process है जिस में की मशीनों को इंसानी intelligence दिया जाता है या यूँ कहे की उनके दिमाग को इतना उन्नत किया जाता है की वो इंसानों के तरह सोच सके और काम कर सके|

Python की मदद से  आप इस क्षेत्र में भी अच्छा करियर बना सकते है . 

Data Science

यह एक स्ट्रीम हैं जिसे सिख कर आप Data Scientist बन सकते है. Data Scientist का काम data का उपयोग करना और उसमे कुछ operation perform करके insights निकालने का होता है |

यानि Data Scientist दिए हुए Data का उपयोग करता है और उसमे से काम की  जानकारी निकालता है।

Blockchain

Blockchain एक टेक्नोलॉजी, एक प्लेटफॉर्म हैं जहां ना सिर्फ digital currency बल्की किसी भी वस्तु को डिजिटल बनाकर उसका रिकॉर्ड रखा जा सकता है। Blockchain एक डिजिटल लाकर हैं।

How much python developers earn | पाइथन डेवेलपर्स कितना कमाते है ?

हमने python के बारे में सारी बातें जान ली की Python किस-किस क्षेत्र में काम आती है। अब बात करते हे कि अगर आप Python Developer बनते है तो आप कितना कमा सकते है ?

एक प्रवेश स्तर (Entry Level) के Python Developer का औसत वेतन (Average Salary) ₹427,293 होती है |

यदि आप मध्यम स्तर (Mid-Level) के Python Developer बनते है तो आपकी औसत वेतन (Average Salary) ₹909,818 होगी।

और वैसे ही एक Experienced Python Developer की सैलरी ₹1,150,000 होती है। 

तो देखा आपने की कैसे  Python सिख के आप अपना एक अच्छा खासा करियर बना सकते है। 

Features of Python | पाइथन की विशेषताएं

features Python Programming Language in Hindi
Features of Python

जैसा की हम जानते है Python एक High-Level, Interpreted, General Purpose Programming Language है। और इसी के साथ इसमें कई और विशेषताएं भी है। जिस कारण अधिकतर 

Developers पाइथन को अपनी पहली पसंद मानते है। 

तो चलिए जानते है क्या है Python के Features :

1. Simplicity

Python बहुत ही आसान language है इसे कोई भी आसानी से सिख सकता है और Python को सिखने के लिए आपको कोई भी programming background की कोई जरुरत नहीं होती है यानि अगर आप Python को अपनी पहली Programming Language के तौर पे सीखना चाहते हो तो आप आसानी से इसे सिख सकते हो। Python को हर कोई सिख सकता है। 

2. OOP

OOP यानि ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग (Object Oriented Programming) ये एक method है जिसमें डेटा और फ़ंक्शन दोनों शामिल होते हैं OOP की मददत से Developers कम लाइन में एक अच्छा प्रोग्राम बना सकते है। 

3. Open Source

जैसा की मैंने पहले भी बताया था की Python एक ओपन सोर्स (Open Source) language है , open source का मतलब यह होता है कि आप python को free में उपयोग कर सकते है।  Python के साथ साथ इसके कई सारे पैकेजेस और लाइब्रेरीज को भी मुफ्त में उपयोग कर सकते है। 

4. Portability

Python  सारे ऑपरेटिंग सिस्टम को सपोर्ट करती  है। जैसे Windows, Linux, Mac आप पाइथन को किसी भी प्लेटफार्म पर install करके चला सकते हो। 

5. Library Support

Python का लाइब्रेरी सपोर्ट बहुत ही बड़ा है यानि की आप इसकी लाइब्रेरीज का उपयोग करके अपने प्रोग्राम को और भी आसान बना सकते हो। पाइथन का उपयोग आज के समय के बड़ी बड़ी MNC’s (Multi National Corporation) Google, DropBox, Netflix, NASA जैसी कम्पनीज करती है।

How to Learn Python | पाइथन कैसे सीखे ?

How to learn python effectively
How to Learn Python

Python सिखने के लिए कई सारे online और offline प्लेटफॉर्म्स मौजूद है। पर उससे पहले एक जरुरी बात अगर आपने पाइथन सिखने का मन बना लिया है तो आपको कुछ बातो का ध्यान रखना जरुरी है। 

ये बातें सिर्फ पाइथन पर ही नहीं बल्कि सारी computer languages पर लागू होती है। 

ध्यान रखने वाली कुछ निम्न बातें :

Think like Developer | डेवलपर की तरह सोचे 

एक डेवलपर की तरह attitude रखे एक डेवलपर की तरह सोचे आप अपने आप को हमेशा याद दिलाते रहे की “मैं एक अच्छा/अच्छी डेवलपर बन सकता/सकती हूँ ”

अगर आप डेवलपर की तरह attitude रखेंगे और सोचेंगे तो आपका आधे से ज्यादा काम तो ऐसे ही हो जायगा। और ये attitude आपको कभी भी हार मानने नहीं देगा। 

Set Time Table | एक समय सारणी निर्धारित करे

आपको एक time table बनाना होगा और उसका पालन करना होगा जिससे की आप किसी भी काम को अच्छे से और निर्धारित समय पर कर पाएँगे। मैं यह नहीं कह रहा हूँ की 8-10 घण्टे Python पढ़ने में लगा दीजिये। ऐसा बिलकुल मत कीजिएगा क्युकी ऐसा करने से आप किसी भी चीज़ से बहुत जल्दी ऊब सकते है और उसे छोड़ सकते है। 

तो बजाए 8-10 घंटों के हर दिन पाइथन सिखने में सिर्फ 2-3 घंटे दीजिए।

Set A Goal | अपना लक्ष्य निर्धारित करे 

बहुत से लोग यही गलती करते है की वो अपना लक्ष्य निर्धारित नहीं करते जिससे वे अपनी प्रगति पर ध्यान नहीं दे पाते और उसे समझ नहीं पाते।

\आपको यह गलती नहीं करनी है आपको अपना एक लक्ष्य निर्धारित करना है जैसे : एक हफ्ते में मुझे इतनी पाइथन सीखनी ही है। ऐसा करने से आप पाइथन सिखने के प्रति समर्पित रहेंगे और अच्छे से सिख पाएंगे। और  जब जब आप अपना लक्ष्य प्राप्त करे तो अपने आपको शाबाशी दे। 

Practice More | ज्यादा से ज्यादा अभ्यास करे 

इससे फरक नहीं पड़ता की आप पाइथन कहा से सिख रहे हो बल्कि फरक इससे पड़ता है की आप कितना अभ्यास कर रहे हो। तो अपना ध्यान अभ्यास पर ज्यादा दे अगर आप पाइथन किसी वीडियो टुटोरिअल से सिख रहे हो तो आपको सिर्फ वीडियो ही नहीं देखना है उसका अभ्यास भी करना है। 

अगर आप रोज 3 घंटा पाइथन सिखने में लगाते हो तो उसमे से 1 घंटा सिर्फ वीडियो देखे बाकि 2 घंटा सीखे हुए का अभ्यास करने में लगाए।

Patience | धीरज रखे 

किसी भी चीज़ को सिखने में थोड़ा समय लगता है तो आप भी जल्द बाज़ी ना करे और पाइथन सिखने में धीरज बनाये रखे क्युकी 80% लोग आखरी पढ़ाओ पे आकर अपना धीरज खो देते है और पाइथन सीखना छोड़ देते है। अगर आप programming में बिलकुल नए है तो आपको कभी ना कभी ऐसा लगेगा की मुझसे logic नहीं बनते या मैं program का logic सोच नहीं पाता। और इसका एक ही इलाज है धीरज रखिये और रोजाना Code कीजिये जिससे की आपके logic बनना चालू हो जाएँगे। 

Make Some Projects | प्रोजेक्ट बनाए 

किसी भी computer language को सिखने का और याद रखने का सबसे बढ़िया तरीका प्रोजेक्ट होते है।

पाइथन में आप जो भी सीखे उसकी मददत से प्रोजेक्ट जरूर बनाये। प्रोजेक्ट आपको सही तरीके से सीखा पाएंगे की programming language काम कैसे करती है। और जैसे-जैसे आप प्रोजेक्ट बनाते जाएंगे वैसे-वैसे आप पाइथन में ओर पकड़ बनाते जाएंगे। 

आखरी पर सब से जरुरी बात रोजाना Code करते रहे चाहे आप पाइथन सिख रहे हो या सिख चुके हो। क्युकी रोजाना code करने से, पाइथन की प्रैक्टिस करने से आप पाइथन में और भी मजबूती ला सकते हो।  प्रोग्राम के logic आपके दिमाग में ही बनने लग जायँगे। 

Python program to convert U.S dollars to Indian Rupees

अभी तक आपने पाइथन के बारे में सब कुछ जान लिया। अब हम देखते ही की कैसे आप पाइथन की मद्दत से एक Currency Converter प्रोग्राम बना सकते हो।

यह प्रोग्राम सिर्फ U.S Dollar को Indian Rupee में कन्वर्ट करेगा।

आप अपने अनुसार किसी भी currency को परिवर्तित करने वाला प्रोग्राम बना सकते हो।

Python-program-to-convert-U.S-dollars-to-Indian-Rupees
U.S Dollar to Indian Rupee

इस currency converter को मैंने दो तरीकों से बनाया है।

  1. मैंने एक function बनाया और उसमे argument पास किये।
  2. मैंने सीधे ही variables में value assign किये और उसका रिजल्ट प्रिंट करवा दिया।

दोनों तरीको का काम एक ही है दोनों आपके Dollar को Rupee में परिवर्तित करदेंगे।

function बनाने का फयदा यह होता है की आप उसे अपने प्रोग्राम में कही भी इस्तेमाल कर सकते हो।

यानि जब आप किसी function को कॉल करते हो तो तभी वह function काम करता है और आपको output देता है।

वही दूसरी ओर डायरेक्ट variables में values को assign करना और उसका रिजल्ट प्रिंट करवाना यह हर बार काम नहीं आता क्युकी आप को पता है

की पाइथन एक interpreted language है यानि पाइथन अपने code को line-by-line execute करती है।

मतलब जिस line पर आप variables में value को assign करोंगे तो वह उस लाइन के साथ execute हो जाएँगे। यानि की आप बाद में अपने हिसाब से इस converter को इस्तेमाल नहीं कर सकते।

इसलिए function create करना ज़्यादा फायदेमंद होता है।

अब यह आपके ऊपर हे की आपको कौन सा तरीका अपनाना है।

Final Thoughts

Python Programming Language in Hindi

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको आपके सवाल What is Python Programming language का जवाब मिल गया होगा। और इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद अगर अब आप से कोई python programming के बारे में पूछे तो आप उसे जवाब दे देंगे। 

मैंने इस आर्टिकल के माध्यम से python programming language की छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी जानकारी देने की कोशिश की है। 

अगर आपके पास मेरे लिए कुछ सुझाव और कही पे आपको कुछ समझ नहीं आया तो निचे comment सेक्शन में कमेंट करके जरूर बताए |

और अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया और जानकारीपूर्ण लगा तो Social Media के जरिए इसे अपने सहपाठियों, साथियों और दोस्तों के साथ साझा जरूर करे। 

अब मुलाकात होगी अगले पोस्ट में जब तक अपना और अपने बड़ो का ध्यान रखिए। HindiTechVarta हिंदी टेक वार्ता आपको ऐसे ही जानकारियाँ प्रदान करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!